આ બ્લોગમાં વર્તમાનપત્રો, મેગેઝિનો, વિકીપીડીયા,GK ની વેબસાઇટો, વગેરે માધ્યમોનો સંદર્ભ તરીકે ઉપયોગ કરવામા આવેલ છે જે માટે સૌનો હ્રદયપૂર્વક આભાર વ્યક્ત કરુ છુ.

Monday, 23 May 2016

♥ વિસ્મયકારક રસપ્રદ વનસ્પતિ ♥

સજીવ સૃષ્ટિમાં વનસ્પતિ પણ પક્ષી-પ્રાણીઓની જેમ અનેક વિધતા ધરાવે છે. ૪૦ થી ૫૦ ફૂટ ઊંચા સિકવોઆથી માંડીને નરી આંખે ન દેખાય તેવા વોલ્ફિયા પણ વનસ્પતિજગતમાં જોવા મળે. આ અજાયબીની વાત પણ રસપ્રદ છે.

♣ સૌથી નાનો છોડ વોલ્ફિયા ♣

વોલ્ફિયા છોડ નહીં પણ એક મિલિમીટરનું ટપકું છે. તેમાં તેના બધા અંગો આવી જાય છે. આપણી આંગળીના ટેરવાં પર પાંચ હજાર વોલ્ફિયાના છોડ આવી જાય. નદી કે તળાવ અને પાણીની સપાટી પર લીલી ચાદર પાથરી હોય તેમ આ છોડ વિકાસ પામે છે.

♣ અમર વનસ્પતિ પોલોપોડિયમ ♣

સામાન્ય રીતે છોડ સૂકાઈ ગયા પછી ફરીથી ઊગતાં નથી પણ આફ્રિકાના જંગલમાં થતો પોલોયોડિયમ અપવાદ છે. આ છોડના ખરબચડાં પાન સૂકાઈ ગયા પછી વર્ષો સુધી જીવિત રહે છે અને પાણી છાંટો ત્યારે ફરીથી લીલાં થઈ ખીલી ઊઠે છે. આ છોડ ૪૦૦ વર્ષ જીવે છે. તેનાં જાડાં પાન હવામાંથી ભેજ ચૂસીને સંઘરી રાખે છે. સૂકાય ત્યારે બદામી રંગના થઈ સંકોચાઈ જાય છે.


♣ હજાર વર્ષ જીવતા છોડ વેલ્વેશિયા ♣

નામિબિયા અને અંગોલાના રણપ્રદેશમાં ઊગતો વેલ્વેશિયા છોડ ૧૦૦૦ વર્ષ જીવે છે. આ છોડને માત્ર બે પાન હોય છે. રણપ્રદેશમાં જમીનમાંથી ફૂટેલાં બે પાન રેતીમાં વિખરાયેલા પડયા હોય છે. પાન ચિરાઈને વધુ પાન બન્યા કરે છે. અને વિકાસ પામે છે. આ પાનની છાયામાં કીડી મંકોડા જેવાં નાનાં જંતુઓ આશ્રય મેળવે છે.


♥ આપણા ફેફસાં અને શ્વસનક્રિયા ♥


આપણું લોહી આખા શરીરમાં ફરી શક્તિ અને ઓક્સિજન પહોંચાડે છે. અને લોહીમાં ઓક્સિજનનો પુરવઠો વપરાય છે. ફરીથી ઓક્સિજન મેળવવા માટે લોહી આપણી છાતીમાં રહેલાં ફેફસામાં જાય છે. ફેફસામાં આપણે શ્વાસમાં લીધેલી હવામાંથી લોહીને ઓક્સિજન મળે છે. લોહીને શુદ્ધ કરવામાં ફેફસાં મહત્ત્વના અવયવ છે. ફેફસાંને સતત તાજી હવા મળી રહે તે માટે આપણે શ્વાસ લઈએ છીએ. ફેફસાં અને શ્વાસની બીજી વાતો પણ જાણવા જેવી છે.

ફેફસાં છાતીમાં પાંસળીઓ વચ્ચે સુરક્ષિત રહેલા અવયવ છે. તે શ્વાસનળી દ્વારા નાક સાથે જોડાયેલા છે. માણસનું જમણું ફેફસું ડાબા કરતાં સહેજ મોટું હોય છે.

ફેફસામાં સૂક્ષ્મ રક્તવાહિનીઓ હોય છે. રક્તવાહિનીઓને એકબીજા સાથે જોડીએ તો લગભગ ૧૬૦૦ કિલોમીટર થાય.

આરામના સમયમાં આપણે દર મિનિટે લગભગ ૧૦ લિટર હવા શ્વાસમાં લઈએ છીએ. ઓક્સિજનની વધુ જરૂર હોય ત્યારે શ્વાસ આપોઆપ ઝડપી બને છે.

ફેફસાં ઉપરાઉપરી મજબૂત આવરણમાં સચવાયેલા હોય છે. આ આવરણનું કુલ ક્ષેત્રફળ ટેનિસના મેદાન જેટલું થાય.

ઉચ્છવાસનું ઊષ્ણતામાન આપણી ચામડીના તાપમાન કરતાં વધુ હોય છે એટલે ઉચ્છવાસ ગરમ લાગે છે.


Sunday, 22 May 2016

♥ फेसबुक पर भूल कर भी किया ये काम तो 3 दिन में ब्लॉक हो जाएगी प्रोफाइल ब्लोक ♥


फेसबुक पर कोई भी ऑफेंसिव पोस्ट करने पर अब आपकी प्रोफाइल ब्लॉक हो सकती है।

व्हाट्सएप पर इन दिनों ऐसी फोटो वायरल हो रही है जिसे अगर आपने फेसबुक पर शेयर किया तो आपकी प्रोफाइल ब्लॉक कर दी जाएगी। यह फोटो एक बच्चे की है जिसमें उसने अपने हाथ में एक मछली पकड़ रखी है।

इसलिए हो सकते हैं ब्लॉक

व्हाट्सएप पर वायरल हो रही है फोटो में बच्चे का प्राइवेट पार्ट दिख रहा है जिसें ब्लर किया गया है। बता दें कि फेसबुक पर ऐसे फोटोज पोस्ट करना गैरकानूनी है। फेसबुक 18 साल के कम उम्र के बच्चे का सेक्सुअल इनवॉल्मेंट बताने वाली पोस्ट या फोटो को फेसबुक परमीशन नहीं देता है और इसे न्यूडिटी मानता है। इस वजह से फेसबुक ऐसी फोटो शेयर करते ही प्रोफाइल ब्लॉक कर देता है।

बार-बार एक ही मैसेज पोस्ट करने परयदि बार-बार एक ही मैसेज को कॉपी कर 300 से ज्यादा बार दोस्तों की वॉल और ग्रुप में पोस्ट करते हैं तो फेसबुक आपको ब्लॉक कर सकता है।

गलत कंटेंट पोस्ट करने परयदि कोई यूजर फेसबुक पर भड़काऊ भाषण या किसी समुदाय या व्यक्ति को व्यक्तिगत तौर पर परेशान करने वाला कंटेंट पोस्ट करता है तो फेसबुक उसे ब्लॉक कर सकता है।

गलत जानकारी देने परयदि कोई व्यक्ति एफिलिएशन डाउटफुल स्कूल, कॉलेज या ऑर्गनाइजेशन के बारे में जानकारी देता है तो उसकी फेसबुक प्रोफाइल ब्लॉक हो सकती है।

पोक कर परेशान करने परफेसबुक पर यूजर्स को पोक करने से पहले ध्यान रखना जरूरी है। यदि आपने ज्यादा से ज्यादा लोगों को पोक किया तो आपकी प्रोफाइल ब्लॉक की जा सकती है।


Saturday, 21 May 2016

♥ तथागत बुद्ध से संबंधित महत्वपूर्ण 79 तथ्य ♥


1) बौद्ध धम्म के संस्थापक ~ तथागत बुद्ध 

2) तथागत बुद्ध का जन्म ~ 563 ईसा पूर्व, बुद्ध
(वैशाख) पूर्णिमा को कपिलवस्तु की लुम्बिनी नामक स्थान पर हुआ | 

3) बुद्ध किस वंश से थे ~ शाक्य वंश 

4) बुद्ध के पिता का नाम ~ शुद्धोधन 

5) बुद्ध की माता का नाम ~ महामाया 

6) बुद्ध के बचपन का नाम ~ सिद्धार्थ 

7) सिद्धार्थ का पालन -पोषण किया था ~ प्रजापति गौतमी (सिद्धार्थ की मौसी)

8) बुद्ध के पिता राजा शुद्धोधन मुखिया थे ~ शाक्य गणराज्य के 

9) बुद्ध की माँ महामाया किस वंश से संबंधित थीं ~ कोलिय वंश 

10) बुद्ध की पत्नी का नाम ~ यशोधरा / गोपा / बिम्बा / भद्कच्छना 

11) बुद्ध के पुत्र का नाम ~ राहुल 

12) बुद्ध ने किस अवस्था में गृह त्याग किया था ~ 29 वर्ष 

13) गृह त्याग की घटना क्या कहलाती है ~ महाभिनिष्क्रमण 

14) बुद्ध के घोड़े का नाम ~ कन्थक 

15) बुद्ध के सारथी का नाम ~ चन्ना (छन्दक)

16) सिद्धार्थ जब कपिलवस्तु की सैर पर निकले तो उन्होंने चार दृश्य क्या देखा था ~ • बूढ़ा व्यक्ति  • बीमार व्यक्ति  • शव  • संन्यासी

17) वे संन्यासी जिनसे गृहत्याग के बाद बुद्ध की मुलाकात हुई ~ आलार कालाम और रूद्रक रामपुत्त 

18) उरूवेला (बोधगया) में मिलने वाले पाँच साधको के नाम ~ कौंडिन्य, वप्प, भद्दिय, महानाम, अस्सागी 

19) ज्ञान प्राप्ति से पहले किसने बुद्ध को खीर खिलाया था ~ सुजाता 

20) 35 वर्ष की आयु में बुद्ध को ज्ञान प्राप्ति कहाँ पर हुई थी ~ बोधगया [ फल्गु (निरंजना) नदी के तट पर उरूवेला (बोधगया) नामक स्थान पर ]

21) जिस वृक्ष के नीचे बुद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ, कहलाता है ~ बोधिवृक्ष (पीपल)

22) बुद्ध ने प्रथम उपदेश कहाँ दिया ~ रिषिपत्तन (सारनाथ)

23) बुद्ध के प्रथम उपदेश को क्या कहा गया ~ धर्मचक्र प्रवर्तन 

24) बुद्ध ने अपने उपदेश किस भाषा में दिए ~ पालि भाषा (धम्म लिपि)

25) बुद्ध का अर्थ है ~ ज्ञान, जागा हुआ या ज्ञानी 

26) एशिया का ज्योतिपुंज (Light of Asia) किसे कहा जाता है ~ तथागत बुद्ध 

27) तथागत का अर्थ ~ सत्य है ज्ञान जिसका अर्थात बुद्ध 

28) वह दिन जिस दिन तथागत बुद्ध को ज्ञान प्राप्त हुआ था ~ बुद्ध (वैशाख) पूर्णिमा 

29) वह स्थान जहाँ बुद्ध ने सर्वाधिक उपदेश दिया ~ श्रावस्ती 

30) 80 वर्ष की अवस्था में बुद्ध की मृत्यु कहाँ पर हुई थी ~ कुशीनगर में 

31) बुद्ध की मृत्यु कब हुई थी ~ 483 ईसा पूर्व, बुद्ध (वैशाख) पूर्णिमा 

32) बुद्ध की मृत्यु की घटना क्या कहलाता है ~ महापरिनिर्वाण 

33) निर्वाण ~ तृष्णा के क्षीण होने की अवस्था को ही बुद्ध ने निर्वाण कहा है 

34) बौद्धों का पवित्र ग्रंथ ~ त्रिपिटक 

35) त्रिपिटक के भाग ~ 
  • सुत्तपिटक ~ बुद्ध के धार्मिक विचारों व उपदेशों का संग्रह (बौद्ध धम्म के सिद्धांत)
  • विनयपिटक ~ बौद्ध संघ के नियमों व अनुशासन की व्याख्या 
  • अभिधम्म पिटक ~ बौद्ध मतों की दार्शनिक व्याख्या (बौद्ध दर्शन)

36) पिटक शब्द का अर्थ ~ टोकरी, पेटी या पिटारा

37) सुत्त पिटक के निकाय ~ दीघ, मज्झिम, संयुक्त, अंगुत्तर, खुद्दक 

38) बुद्ध के जीवन के अंतिम क्षणों का वर्णन मिलता है ~ महापरिनिब्बानसूत्त (सबसे प्राचीन ग्रंथ)

39) चतुर्थ बौद्ध संगीति में बौद्ध धम्म दो भादों में बँट गया ~
  • हीनयान (थेरवाद) ~ जो बुद्ध के दिए हुए सिद्धांत व दर्शन को ज्यों का त्यों मानते हैं 
  • महायान ~ जो बुद्ध के दिए हुए सिद्धांत व दर्शन में परिवर्तन करके मानते हैं |

40) बौद्ध धम्म के त्रिरत्न ~ बुद्ध, धम्म, संघ

41) बुद्ध के अनुयायी शासक जो उनके समकालीन थे ~ बिम्बिसार, प्रसेनजित, उदयन

42) त्रिपिटक की भाषा है ~ पालि भाषा 

43) बौद्ध धम्म ग्रहण करने वाली प्रथम महिला ~ महाप्रजापति गौतमी 

44) वह स्थान जहाँ बुद्ध वर्षा के मौसम में प्रवास करते थे ~ बेलुवन और जेतवन 

45) जेतवन को किसने बुद्ध के लिए दान किया था ~ अनाथपिण्डक 

46) त्रिपिटक का वह भाग जिसका संकलन प्रथम बौद्ध संगीति में हुआ था ~ सुत्तपिटक और विनयपिटक 

47) बुद्ध का परिनिर्वाण किस गणराज्य में हुआ था ~ मल्ल गणराज्य 

48) बुद्ध की प्रथम मूर्ति बनाने का श्रेय किस कला को दिया जाता है ~ मथुरा कला 

49) सर्वाधिक बुद्ध मूर्तियों का निर्माण किस शैली में हुआ ~ गन्धार शैली 

50) धार्मिक जलूस का प्रारंभ सबसे पहले बौद्ध धम्म के द्वारा प्रारंभ किया गया 

51) दु:ख, दु:ख का कारण, दु:ख निरोध, एवं दु:ख निरोध के मार्ग को बुद्ध ने कहा है ~ चार आर्य सत्य 

52) बौद्ध धम्म को भारत में किस शासक ने अंतिम संरक्षण दिया ~ बंगाल के पाल वंश के शासकों ने 

53) बुद्ध ने उपदेश दिया ~ मध्यम मार्ग 

54) बौद्ध धम्म के अनुसार महापरिनिर्वाण संभव है ~ मृत्यु के बाद | जबकि निर्वाण प्राप्त हो सकता है ~ जीवन काल में ही 

55) कौन सा धर्म आत्मा और ईश्वर के अस्तित्व को स्वीकार नही करता ~ बौद्ध धम्म 

56) बौद्ध धम्म के लिए 84 हजार स्तूपों का निर्माता कहा जाता है ~ सम्राट अशोक महान को 

57) कर्मकांड व पशुबलि का विरोध किया था ~ बुद्ध ने 

58) सम्यक दृष्टि, सम्यक वाणी, सम्यक संकल्प, सम्यक कर्म, सम्यक आजीव, सम्यक व्यायाम, सम्यक स्मृति, सम्यक समाधि ... को बुद्ध ने कहा है ~ अष्टांगिक मार्ग 

59) बुद्ध ने संघ मे स्त्रियों को प्रवेश की अनुमति दी थी ~ प्रिय शिष्य आनंद के आग्रह पर

60) सम्राट अशोक द्वारा बनवाया हुआ रूम्मिनदेई स्तंभ बुद्ध के संदर्भ में किसका सूचक है ~ बुद्ध के जन्म का 

61) गौतम बुद्ध द्वारा भिक्षुणी संघ की स्थापना कहाँ की गई ~ कपिलवस्तु में 

62) बुद्ध के जीवन काल में ही कौन संघ प्रमुख होना चाहता था ~ देवदत्त 

63) कुख्यात डाकू अंगुलिमाल को बुद्ध ने कैसे परास्त किया ~ बातों के प्रभाव से 

64) "बहुजन हिताय, बहुजन सुखाय" किसने कहा था ~ तथागत बुद्ध ने 

65) भारत में सबसे पहले मानव प्रतिमाओं को पूजा गया वह थी ~ बुद्ध की प्रतिमा 

66) प्राचीन विश्व प्रसिद्ध बौद्ध शिक्षा केन्द्र ~ नालन्दा, तक्षशिला, विक्रमशिला 

67) धातु के बने सिक्के सबसे पहले प्रकट हुए थे ~ बुद्ध काल में 

68) बुद्ध के उपदेशों का सार एवं सम्पूर्ण शिक्षाओं का आधार स्तंभ है ~ प्रतीत्य समुत्पाद 

69) अर्हत का अर्थ ~ जो व्यक्ति अपनी साधना से निर्वाण प्राप्त करते हैं l

70) बुद्ध ने कभी भी अपने मत को बलात थोपने का प्रयास नहीं किया | वे कहा करते थे कि यदि उनकी शिक्षाएँ अच्छी और तर्कसंगत लगे तभी उन्हें ग्रहण किया जाए |

71) बौद्ध संगीतियाँ ~ 
  • प्रथम ~ 483 ईसा पूर्व -- राजगृह (स्थान) -- बिम्बिसार (शासक) -- महाकस्सप (अध्यक्ष)
  • द्वितीय ~ 383 ईसा पूर्व -- वैशाली (स्थान) -- कालाशोक (शासक) -- साबाकामी (अध्यक्ष)
  • तृतीय ~ 251 ईसा पूर्व --  पाटलिपुत्र (स्थान) -- सम्राट अशोक (शासक) -- मोग्गलिपुत्त तिस्स (अध्यक्ष)
  • चतुर्थ ~ 72 ईसा पूर्व -- कुण्डलवन (सथान) -- कनिष्क (शासक) -- वसुमित्र (अध्यक्ष)

72) बुद्ध से जुड़े आठ स्थान जिन्हें बौद्ध ग्रंथों में "अष्टमहास्थान" कहा गया है ~ लुम्बिनी, बोधगया, सारनाथ, कुशीनगर, श्रावस्ती, संकिसा, राजगृह तथा वैशाली 

73) बुद्ध के जीवन की चार महत्वपूर्ण घटना और उनसे सम्बद्ध चार स्थान ~  
  • जन्म ~ लुम्बिनी 
  • ज्ञान प्राप्ति ~ बोधगया 
  • प्रथम उपदेश ~ सारनाथ 
  • परिनिर्वाण (मृत्यु) ~ कुशीनगर 

74) तथागत बुद्ध की मृत्यु चुन्द द्वारा अर्पित भोजन "सूकरमद्दव" खाने के बाद हुआ | कुछ विद्वानों ने सूकरमद्दव का अर्थ सूअर का मांस निकाला है, किंतु यह तर्कसंगत नहीं है | वस्तुतः यह एक वनस्पति / कवक थी जो सूअर के मांद के पास उगती थी, जैसे कुकुरमुत्ता आदि |
पालि भाषा में ऐसे कई शब्द हैं जिनका प्रथम अवयव सूअर है, जैसे ~ सूकरकन्द (शकरकन्द), सूकर -पदिक (सूअर का पैर), सूकरेष्ट (सुअरों द्वारा इच्छित) | 

75) बुद्ध के लिए प्रयुक्त अन्य शब्द और नाम ~ विश्वगुरु, तथागत, शाक्यमुनि, शाक्य -सिंह, शाक्य शिरोमणि, गौतम 

76) बुद्ध के जीवन से संबंधित बौद्ध धम्म के प्रतीक चिह्न ~
  • जन्म ~ हाथी, कमल, सांढ 
  • गृह त्याग ~ घोड़ा 
  • ज्ञान प्राप्ति ~ बोधिवृक्ष (पीपल)
  • निर्वाण ~ पदचिह्न 
  • महापरिनिर्वाण (मृत्यु) ~ स्तूप 

77) भारत मूलत: बौद्ध राष्ट्र है | बौद्ध धम्म, हिंदू धर्म का अंग नहीं है बल्कि इसका स्वतंत्र व पृथक अस्तित्व है | ऐतिहासिक साक्ष्यों के अनुसार तथागत बुद्ध सहित अब तक के 28 बुद्धों के नाम बौद्ध ग्रंथों त्रिपिटक, बुद्ध वंश, जातक में उल्लिखित हैं | जो निम्नवत हैं ~
  • तनहंकर, मेधांकर, शरणंकर, दीपंकर, कौंडिन्य मंगल, सुमन, रेवत, शोभित, अनोमदस्सी, पदुम नारद, पदमुत्तर, सुमेध, सुजात, प्रियदर्शी, अर्थदर्शी, धम्मदर्शी, सिद्धार्थ, तिस्स, फुस्स, विपस्सी, सिखी, वैशब्भू, ककुसन्ध, कोणागमन, कस्यप, तथागत बुद्ध |
  • इस प्रकार तथागत बुद्ध 28 वें बुद्ध हैं | भारत में आर्यों (हिंदू) का आगमन ~ 1500 ईसा पूर्व में मध्य एशियाई देशों से हुआ | रिग्वैदिक सभ्यता का काल ~ 1500 -1000 ईसा पूर्व |
  • सैंधव सभ्यता के जो अवशेष मिले हैं वे इस बात का संकेत करते हैं कि यह सभ्यता "बौद्ध विचारधारा" पर आधारित सभ्यता थी | जिसका काल 2500 ईसा पूर्व है | जिसे भारत की सबसे प्राचीन सभ्यता कहा जाता है | जो रिग्वैदिक व वैदिक सभ्यता से भी प्राचीन है | हिंदू धर्म से हजारों साल प्राचीन है |
  • इससे सिद्ध होता है कि बौद्ध धम्म ही भारत का मूल धर्म है अर्थात भारत के मूलनिवासियों का धर्म, बौद्ध धम्म ही रहा है | 

78) बौद्ध धम्म के प्रतीक ~
  • 563, नमो बुद्धाय , पंचशील ध्वज 
  • चार आर्य सत्य का चिह्न, तथागत बुद्ध का हाथ 
  • कमल, पदचिह्न, स्तूप, बोधिवृक्ष (पीपल का पेड़)
  • हाथी, घोड़ा, शेर, हिरण, सांढ़, मोर, बाघ 
  • 32 तिल्लियों वाला चक्र, 24 तिल्लियों वाला चक्र, 8 तिल्लियों वाला चक्र 
  • सम्राट अशोक स्तंभ (4 शेर वाला), सिंह स्तंभ, अश्व (घोड़ा) स्तंभ, सांढ़ स्तंभ, हाथी स्तंभ 

79) भारत ने अपने राज्य चिह्न के रूप में बौद्ध प्रतीकों को ही ग्रहण किया है | जिसके कारण वह शांति व सह अस्तित्व का पोषक बना हुआ है |


बुद्ध पूर्णिमा / वैशाख पूर्णिमा

  • इसी दिन लुम्बिनी में भगवान बुद्ध का जन्म  हुआ था |
  • इसी दिन बोधगया में बोधिवृक्ष के नीचे भगवान बुद्ध को ज्ञान प्राप्ति हुई थी |
  • इसी दिन कुशीनगर में भगवान बुद्ध का परिनिर्वाण हुआ था | 
अत: बुद्ध पूर्णिमा का दिन सबके लिए बहुत ही पवित्र है l

इस दिन लोगों को अपने -अपने घरों में दीपावली की तरह दीप जलाकर पूरे भारत को प्रकाशित करने का संदेश देना चाहिए | क्योंकि इस दिन उस महान महापुरूष "विश्वगुरु तथागत बुद्ध" का जन्म हुआ था जिसके ज्ञान के प्रकाश से भारत ही नहीं अपितु पूरा विश्व आज भी प्रकाशित है और हमेशा रहेगा |

✅ सम्राट अशोक बौद्ध महासंघ (SABM)
☸ जय भारत.||| 563 ||| नमो बुद्धाय ☸


Monday, 9 May 2016

♥ WHATSAPP के बारे में रोचक तथ्य ♥

Whatsapp Facts: दो दोस्तों ने यह सोचकर नौकरी छोड़ दी कि अपना कोई काम किया जाए, लेकिन जब बात नहीं बनी तो दोनों ने दोबारा नौकरी ज्वाइन कर ली। हालांकि दोनों ने कुछ अलग करने की अपनी उम्मीद नहीं छोड़ी। इसके बाद उन्होंने कुछ प्रयोग किए और देखते ही देखते उनका काम लोकप्रिय होने लगा। बाजार में उसकी कीमत अरबों डॉलर की हो गई और फेसबुक जैसे लोकप्रिय ब्रांड को उसे खरीदने का प्रस्ताव भेजना पड़ा। यहां बात हो रही है व्हाट्सप्प की, जिसे Jan Koum और Brian Acton नाम के दो दोस्तों ने तैयार किया हैं. आज हम आपको ऐसे “Whatsapp Facts” बताएंगे, जो आपको Whatsapp पर भी नही मिलेंगे.


1. Whatsapp नाम इसलिए चूज़ किया गया क्योकिं इसकी साउंड “Whats UP” जैसी हैं.

2. Whatsapp के सबसे ज्यादा यूज़र भारत में हैं.

3. Whatsapp ने आज तक advertise पर एक पैसा भी खर्च नही किया. इसके बावजूद भी वाट्सएप्प इतनी हिट हैं.

4. Whatsapp पांचवी सबसे ज्यादा डाउनलोड की जाने वाली application हैं.

5. Whatsapp “no ads” policy पर काम करता हैं, आपने कभी Whatsapp पर किसी और कंपनी की advertise नही देखी होगी.

6. Whatsapp टीम में 55 engineers हैं, और एक engineer 18 millon users को handle करता हैं.जो per engineer सबसे ज्यादा हैं.

7. Whatsapp पर हर रोज़ 4300 करोड़ मैसेज भेजे जाते हैं.

8. Whatsapp पर हर रोज़ 160 करोड़ फोटो शेयर किए जाते हैं.

9. Whatsapp पर हर रोज़ 25 करोड़ विडियों शेयर की जाती हैं.

10. Whatsapp का इस्तेमाल 53 भाषाओं में कर सकते हैं.

11. Whatsapp के monthly active users 100 करोड़ हैं, जो facebook messenger से भी ज्यादा हैं.

12. Whatsapp पर 100 करोड़ से भी ज्यादा ग्रुप बने हुए हैं, इनमें से 1-2 तो आपका भी होगा.

13. Whatsapp founder “Jan Koum” और “Brian Acton दोनों ने ही 2009 में फेसबुक में एक जॉब के लिए अप्लाई किया था, लेकिन उन्हें रिजेक्ट कर दिया था.

14. वाट्सऐप के को-फाउंडर जैन कॉम का जन्म यूक्रेन के एक छोटे से गांव कीव में हुआ था. इनका परिवार इतना गरीब था कि उनके घर में बिजली तक नहीं थी.

15. आपको ज़ानकर हैरानी होगी की Whatsapp बनाने वाले जैन कॉम दुकान में सफाई और पोछा लगाने का काम करते थे. लेकिन आज ये अरबपति हैं.

16. 2009 के शुरुआती दिनों में ही वाट्सएप्प के आविष्कार का बीज पड़ गया। कॉम ने एक आईफोन खरीदा और इस नतीजे पर पहुंचे की आने वाले समय में ऐप्स काफी बड़ी चीज होंगे. उन्होंने सोचा कि एक ऐसा एप्लिकेशन तैयार किया जाए जिसके माध्यम से बड़ी ही आसानी से मैसेजिंग की जा सके.

17. Whatsapp का ट्रायल कुम के कुछ Russian दोस्तो के फोन पर हुआ था.

18. Whatsapp ज़ितनी तेजी से इतिहास में किसी कंपनी ने ग्रोथ नही की.

19. Whatsapp और Skype जैसी सेवाओं की वज़ह से दुनियाभ़र की दूरसंचार कंपनियों को $386 बिलियन का नुकसान उठाना पड़ा हैं.

20. Facebook ने Whatsapp को 1182 अरब रूपए में खरीदा, जो अब तक की सबसे महंगी डील हैं. ये डील 2014 में Valentine’s Day के दिन हुई.

21. अगर आप Whatsapp पर किसी की profile picture नही देख पा रहे तो 2 बाते हो सकती हैं, या तो आप उस व्यक्ति की contact list में नही हैं या फिर उसने आपको block कर दिया हैं.

22. Whatsapp की एक साल की कमाई NASA के बज़ट से भी ज्यादा हैं.

23. Internet पर खींची गई 27% Selfies के लिए Whatsapp जिम्मेदार हैं.

24. January 2012, में Whatsapp को IOS App store से बिना बताए remove कर दिया था, but 4 दिन बाद दोबारा add कर दिया.

25. अगर आपको शक है कि किसी contact ने आपको Whatsapp पर ब्लॉक कर दिया है, तो उसे एक ग्रुप में एड करें. अगर उसने आपको ब्लॉक किया होगा, तो यह नहीं हो पाएगा.


Friday, 6 May 2016

♥ बिल्लियो के बारे मे रोचक तथ्य ♥

बिल्लियां इंसानों के जज्बात समझती हैं. उन्हें एहसास होता है कि कब उनके मालिक का मूड अच्छा है और कब बुरा l

बिल्लियां दिन में 16 घंटे सोती हैं. बाकी के वक्त में से एक तिहाई यानि लगभग तीन घंटे वे खुद को साफ करने में लगाती हैं l

जिस तरह से इंसानों की पहचान फिंगरप्रिंट्स से होती है, वैसे ही बिल्लियां नाक के प्रिंट से पहचानी जाती है l

कुत्तों की तुलना में बिल्लियों का दिमाग इंसानों से ज्यादा मेल खाता है. यहां तक कि वे इंसानों की ही तरह सपने भी देखती हैं l

स्तनपायी जीवों में बिल्ली की आंखें अपने शरीर के आकार के अनुसार सबसे बड़ी होती हैं,  अधिकतर बिल्लियों की पलकें नहीं होतीं l

खाने के मामले में बिल्लियां बेहद नखरीली होती हैं. वे भूखी रह लेंगी लेकिन जो खाना उन्हें पसंद नहीं, उसे जबरन नहीं खाएंगी I

बिल्ली के दूध के दांत बेहद नुकीले होते हैं. लेकिन ये ज्यादा दिन नहीं रहते. छह महीने बाद ये गिर जाते हैं और नए दांत आते हैं l

बिल्लियां जब पैदा होती हैं, तब आम तौर उनकी आंखें नीली होती हैं. वक्त के साथ साथ उनकी आंखों का रंग बदलता रहता है l

टर्किश वैन नाम की नस्ल को पानी में रहना बहुत पसंद है. इसके शरीर पर एक ऐसी कोटिंग होती है जिससे यह भींग ही नहीं पाती l

बिल्लियां नौ हफ्ते गर्भवती रहती हैं. डस्टी नाम की बिल्ली ने अपने जीवन में 420 बिल्लियों को जन्म दिया था. यह रिकॉर्ड 1952 में बना l

बिल्ली के आगे के पैरों पर पांच-पांच और पीछे के पैरों पर चार-चार उंगलियां होती हैं l

बिल्ली छलांग लगाने में माहिर होती हैं. वे अपने शरीर के आकार से पांच गुना दूरी तक छलांग लगा सकती है l

बिल्लियों के शरीर में कुल 230 हड्डियां होती हैं, यानि इंसानों से 24 ज्यादा l

बिल्ली का दिल इंसानों की तुलना में दोगुना तेजी से धड़कता है, एक मिनट में 110 से 140 बार l

काली बिल्ली का दिखना अधिकतर जगहों में अपशगुन माना जाता है लेकिन ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया में मान्यता इसके विपरीत है I


♥ दुनिया के सबसे बड़े ब्रांड ♥




Thursday, 5 May 2016

♥ ફળો ગોળાકાર કે લંબગોળ આકારનાં જ કેમ ? ♥


પૃથ્વી પર સજીવ સૃષ્ટિનો વિકાસ આસપાસના વાતાવરણને અનુકૂળ થાય અને વધુમાં વધુ રક્ષણ, પોષણ અને વંશવેલો વધારવાની સુવિધા મળે તે રીતે થયો છે. દરેક સજીવ ચોક્કસ આકારમાં જ વિકસ્યા છે. વનસ્પતિ સજીવ છે પરંતુ હાલીચાલી શકતી નથી. એક જ જગ્યાએ વિકાસની સાથે તે રક્ષણ અને પોષણ મેળવે છે. વનસ્પતિના વંશવેલાની વૃદ્ધિ માટે તેના બીજ દૂર દૂર સુધી પહોંચે તે જરૃરી છે.

પ્રાણીપક્ષીઓ અને જંતુઓ તેમાં ઉપયોગી થાય છે. પાન વધુમાં વધુ સૂર્યપ્રકાશ મેળવી શકે તે રીતે બન્યા છે. ફૂલો વધુ ને વધુ જંતુઓને આકર્ષી શકે તેવા રંગીન બન્યા છે. તો ફળો સ્વાદિષ્ટ અને દેખાવમાં આકર્ષક બન્યા છે. દરેક ફળ ગોળાકાર હોય છે. ફૂલમાં રહેલા ગોળાકાર ટપકા જેવા બીજાશયમાં ગોળાકાર ફળ બને છે. કેળા અપવાદ છે. તેમાં બીજ હોતા નથી. કેળાને વનસ્પતિશાસ્ત્રીઓ ફળ ગણતા નથી.

મોટાભાગના ફળોમાં સંખ્યાબંધ બીજ હોય છે. ફળ તૂટે ત્યારે તેના બીજ વધુ ને વધુ અંતરે ફેલાય તે જરૃરી છે. ભૌમિતિક દૃષ્ટિએ ઓછી જગ્યામાં વધુ દળ અને બીજ ગોળાકારમાં જ સમાય તેવી ગણતરી પણ ખરી. ઝાડ ઉપર લટકતા ગોળાકાર ફળનું ગુરૃત્વ મધ્યબિંદુ વચ્ચે રહેવાથી તે ટકી રહે છે ચોરસ કે અનિયમિત આકારના ફળ હોય તો તૂટી પડે.